जब मैं मरुँ , तो शांति से जाना चाहता हूँ , जैसे मेरे दादा जी चले गए – सोते हुए . ना कि उनकी कार में बैठे पैसेंजर्स की तरह चीखते –चिल्लाते .

Similar Quotes