सिर्फ खड़े होकर पानी देखने से आप नदी नहीं पार कर सकते। - रबिन्द्रनाथ टैगोर

Similar Quotes