शेर और हाथी की कहानी

Riya Jain Riya Jain October 7, 2018 0 Comments 151 Views

एक जंगल में एक शेर (Lion) रहता था . वह बहुत ताकतवर था. जंगल के सभी जानवर उससे डरते थे .कोई भी उसके सामने आने की हिम्मत नहीं करता . पर वह शेर मुर्गे की आवाज़ से बहुत डरता . जब सुबह सुबह मुर्गा बाघ देता तो वह शेर बहुत डर जाता और अपनी गुफा से बहार ही नहीं निकलता . एक बार उसने एक बहुत विशाल हाथी (Elephant )को देखा. हाथी ने शेर से पूछा क्या हुआ जंगल के राजा तुम कुछ डरे हुए लग रहे हो . शेर ने अपना दुःख उस हाथी के साथ बाटने करने की सोची . शेर ने हाथी से पूछा तुम इतने विशाल हो क्या कोई ऐसी चीज़ है जो तुम्हे डराती है . हाथी ने कहा ” क्या बताऊ शेर महराज आपको जब कोई मख्खी मेरे कान के पास आती है और उसकी जो भिन्नं भिन्नं की आवाज़ होती है मुझे उससे बहुत डर लगता है . मुझे लगता है वह मख्खी मेरे कान में घुस जाएगी और मैं दर्द की वजह से पागल हो जाऊंगा .
शेर अब समझ गया चाहे कोई बाहर से कितना भी विशाल दिखे पर सबको कुछ न कुछ डर ज़रूर होता है . और वह डर जीवन की ख़ुशी को काम कर देता है

Moral Of The Story

दुनिया में हर इंसान का कोई न कोई डर ज़रूर होता है वह डर जीवन को कमज़ोर कर देता है और ज़्यादातर डर बेकार के होते हैं . हमें अपने डर से खुद ही ऊपर उठना होगा . तभी हम जीवन का आनंद ले पायंगे और इससे अच्छे से जी पाएंगे .